24 जून 2013

पर साथी इन बाधाओ को तुम न दलोगे कौन दलेगा?

25 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुंदर और प्रेरणादायक रचना ।

    उत्तर देंहटाएं
  2. साधना पथ पर
    भले ही डगमगाये कदम
    चलो चलते चलो पग !
    बहुत सुन्दर ...

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आभार, सुमन जी प्रेरक शब्दों के लिए....

      हटाएं
  3. रचना तो अदभुत है ही आपकी गजब की प्रस्तुति ने तो इसे नैसर्गिक सौंदर्य दे दिया है । बहुत बढिया सुज्ञ जी

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपका बहुत बहुत शुक्रिया अजय जी

      हटाएं
  4. बड़ी सुंदर, संकलन योग्य रचना है
    आपकी आशाएं पूरी हों !
    सुज्ञ जी !

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. शुभाकांक्षा के लिए आभार सतीश जी

      हटाएं
  5. एकदम सही कहा आपने . आभार मोदी व् मीडिया -उत्तराखंड त्रासदी से भी बड़ी आपदा
    आप भी जानें संपत्ति का अधिकार -४.नारी ब्लोगर्स के लिए एक नयी शुरुआत आप भी जुड़ें WOMAN ABOUT MAN

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत प्रेरक और उत्कृष्ट रचना...

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. प्रेरणा के लिए आभार कैलाश जी

      हटाएं
  7. उखड्ती,छूटती साँसों को पकड़ एक लम्बी गहरी साँस खींचने की सी प्रेरणा देती सभी पंक्तियाँ!
    कुँवर जी,

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. गजब है आपका प्रतिक्रियात्मक शब्द चित्र.... आभार, कुँवर जी!!

      हटाएं
  8. बहुत ही सुंदरतम आत्मबोध कराती रचना.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  9. वाह! जितना प्यारा गीत, उतनी सुंदर प्रस्तुति।

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. स्नेह के लिए शुक्रिया देवेंद्र जी

      हटाएं

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...